Hindi
Friday 17th of August 2018

नमाज की ओर बुलाना, ज़िंदगी का सबसे अच्छा काम है।

सुप्रीम लीडर हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई ने कहा कि नमाज का निमंत्रण देना इंसान के जीवन का सबसे अच्छा काम है इसलिए कि नमाज में आदमी अपने रब से सच्चे दिल से अपने दिल की बातें करता है।

अहलेबैत न्यूज़ ऐजेंसी अबना: प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार ईरान के सुप्रीम लीडर हज़रत आयतुल्लाह सैय्यद अली ख़ामेनई ने आज गुरुवार के दिन अपने संदेश में कहा कि नमाज़ कान्फ्रेंस के प्रबंधक इसके वार्षिक आयोजन का सम्मान करें और अपने संकल्प को जारी रखें और जान लें कि अल्लाह सब्र करने वालों के साथ है।
सुप्रीम लीडर हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई ने कहा कि नमाज का निमंत्रण देना इंसान के जीवन का सबसे अच्छा काम है इसलिए कि नमाज में आदमी अपने रब से सच्चे दिल से अपने दिल की बातें करता है।
हज़रत आयतुल्लाह सैय्यद अली ख़ामेनई ने कहा कि क़ुरआने करीम और हदीसों में नमाज पढ़ने की बहुत ज़्यादा ताकीद की गई है इसीलिए अल्लाह के नेक बंदे इसे अपने लिए एक दर्स समझें और लोगों को नमाज की ओर बुलाऐं।
सुप्रीम लीडर ने कहा कि इस्लामी शासन के मोमिन शासकों को चाहिए कि वह इस दावत के लिए जो काम भी ज़रूरी हो उसे अंजाम दें और उलमा, शिक्षक, टीचर्स, ऑफिसर्स और दूसरे वरिष्ठ अधिकारी अपने दोस्तों और सुनने वालों तक इस बात को फैलाए और उन्हें अल्लाह की ओर और नमाज़ की तरफ दावत दें।
नमाज की 26वीं कॉन्फ्रेंस आज सुबह ईरान के बंदर अब्बास शहर में वरिष्ठ अधिकारियों, मजहबी और सांस्कृतिक हस्तियों और शिया व सुन्नी उलमा की मौजूदगी में शुरू हुई है।

latest article

      सूर -ए- अनआम की तफसीर
      तिलावत,तदब्बुर ,अमल
      तहरीफ़ व तरतीबे क़ुरआन
      क़ुरआने करीम की तफ़्सीर के ज़वाबित
      सुन्नत अल्लाह की किताब से
      जिस्मानी अज़ाब
      ज़ियारते नाहिया और उसूले काफ़ी
      इमाम खुमैनी रहमतुल्लाह की 29 वीं बरसी ...
      इमाम ख़ुमैनी के मज़ार और पार्लियमेंट ...
      ईश्वरीय वाणी-3

user comment